ADS pro

ग़रीब मुसलमानों की मुसीबत

ग़रीब मुसलमानों की मुसीबत

TWO D/F PLACE PHOTO MUSLIM COMMUNITY TARGET
घटना 1- तीन मुसलमान मछुआरों को 10-15 लोग घेर लेते हैं. तीनों मछुआरे हाथ जोड़कर गिड़गिड़ाते हैं. स्थानीय भाषा में लोग चिल्लाते हैं- 'छूना मत इन्हें, ये लोग ही कोरोना फैला रहे हैं.'- कर्नाटक के बागलकोट की घटना
घटना 2- 'जावेद भाई आप अपनी दुकान उठा लो और यहां दुकान मत लगाओ. बड़ी दिक्क़त हो रही है आप लोगों से. इन्हीं लोगों से बीमारी फैल रही है. उठाओ...उठाओ दुकान उठाओ अपनी.'- उत्तराखंड के हल्द्वानी की घटना 
हल्द्वानी के जावेद

उत्तराखंड के हल्द्वानी से ऐसा ही एक वीडियो आया है. जिसमें कुछ लोग आकर उनसे उनका नाम पूछते हैं. जावेद नाम बताने पर लोग उन्हें दुकान उठाने को कहते हैं, साथ ही कहते हैं कि अब वह दुकान ना लगाएं.TWITTER
बग़ल में बैठा दूसरा दुकानदार वीडियो में ही पूछता है क्या हमें भी दुकान नहीं लगानी. जिसके जवाब में लोग कहते हैं - नहीं, आप लगाइए.
इन लोगों को नहीं लगाना, इनके यहां से ही कोरोना आ रहा है ना. साथ ही वो कहते हैं कि अगर कोई मुसलमान ठेले वाला दिखे या कोई सामान लेता हुआ भी दिखे तो हमारा नंबर ले लो, हमें तुरंत बताना.
MEDIAINFO  ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा में रहने वाले वीडियो में नज़र आ रहे जावेद से बात की. जावेद बताते हैं, "आईटीआई रोड पर रविवार की सुबह सात बजे थे, मैंने दुकान लगानी शुरू ही की थी कि कुछ लोग आ गए और मुझसे आधार कार्ड मांगा. मेरा आधार तो घर पर था तो उन लोगों ने मेरा नाम पूछा. नाम पता चलते ही बोले कि दुकान उठा लो और यहां दुकान मत लगाना".
जावेद का दावा है कि जब उनकी रेहड़ी हटवाई जा रही थी तो महिला पुलिसकर्मी चुपचाप ये देख रही थी. साथ ही, दुकान हटवाने वाले लोगों ने दूसरे दुकानदारों से कहा कि वे दुकान लगा सकते हैं.
कोरोना वायरसइमेज कॉपीरइटSOCIAL MEDIA
जब देश भर में मज़दूर पैदल अपने गांव जाने के लिए निकल पड़े थे तो जावेद ये सोचकर अपने गाँव नहीं गए कि फलों की बिक्री तो होती ही रहेगी.
मूलतः उत्तर प्रदेश के बदायूं के रहने वाले जावेद कहते हैं, "अब क्या करें, घर में बैठे हैं. 10-15 लोग थे, कुछ बोल नहीं सकते थे. अब नहीं लगाएंगे दुकान."
उनकी आवाज़ में गहरी मायूसी थी. जावेद फल बेचते थे और उनके भाई मंडी से फल लाने का काम करते थे. अब दोनों ही भाइयों के पास कोई काम नहीं है.
नैनीताल के एसएसपी सुनील मीणा ने हमें बताया कि फल वाले की ओर से कोई शिकायत नहीं मिली है, लेकिन हमें ये शिकायत ज़रूर मिली है कि कुछ लोगों ने लॉकडाउन का उल्लंघन किया है, उन पर आईपीसी की धारा 188 लगाकर कार्रवाई की गई है.

Comments

Popular posts from this blog

क्या क्रोना वैक्सीन मिल गई । पूरा पढ़े

क्रोना वायरस इलाज या नहीं

क्या मुस्लिम का अलग अलग ज्यादा जातियां होने के कारण ३५ करूर और जाने

Digital Marketing Q&A Learn Google Digital Garage and Digital Marketing Skill via Question and Answer

Universal Basic Income (UBI)

५ FACT INDIA HINDU मुसलमानों के बारे में हिंदू इतना बुरा क्यों सोचते हैं